देश में हरित क्रांति का पीएम मोदी ने काशी स े किया आगाज

डेली वर्ल्ड रिपोर्टर/वाराणसी

पंचक्रोशी परिक्रमा मार्ग पर बने आनंद कानन के नवग्रह वाटिका में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विधिवत पूजन-अर्चन करने के पश्चात 12 फीट ऊंचा पीपल का पौधा लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। पौधरोपण के दौरान प्रतियोगिता के विजेता पांच स्कूली छात्र बाल वृक्ष मित्र के रूप में मौजूद रहें। इसके अलावा पर्यावरण के क्षेत्र में योगदान देने वाले पांच विशिष्ट लोग भी प्रधानमंत्री से मुलाकात कर अभिभूत हुए। दैविक, दैहिक और भौतिक आधार पर नवग्रह वाटिका में 21 विशेष पौधे लगाए गये।
जल संचयन को लेकर शुरू किए गए अभियान के तहत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को देशव्यापी पौधरोपण अभियान की शुरुआत काशी से किया। पंचक्रोशी परिक्रमा मार्ग पर स्थित प्राथमिक विद्यालय हरहुआ में विकसित किये गये आनंद कानन की आधारशिला नवग्रह वाटिका में पीपल के पौधे से रखी। 11 विस्वा में बने नवग्रह वाटिका में दैविक पौधे मदार, पलाश, खैर, चिचिड़ा, पीपल, गूलर, शमी, दूर्वा और कुशा, दैहिक पौधे नीम, बरगद, मालती और भौतिक पौधे पारिजात, बादाम, महुआ व आम को रोपा। आनंद कानन को पर्यटकों के लिए विकसित किया गया हैं और पौधे लगाने के बाद उसकी जिम्मेदारी भी तय कर दी गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पौधरोपण के दौरान ही 48 ग्राम पंचायतों, रिंग रोड और शहर में 50 हजार पौधे लगाये गए। यह अभियान स्वच्छ भारत मिशन के तहत ही चलाया जा रहा है। इसके तहत वाराणसी की धार्मिक यात्रा पंचकोशी मार्ग सहित पूरे बनारस में 27 लाख पेड़ और यूपी में 22 करोड़ पेड़ लगाने का लक्ष्य रखा गया है। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, वन मंत्री दारा सिंह चौहान सहित अन्य लोग मौजूद रहेंगे।

Leave a Reply

*